Popular

डीजीपी के सभी सीपी और एसपी को आदेश लॉकडाउन को सख्ती से लागू करते हुए कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ करें सख्त कार्रवाई

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मनोज यादव ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि फील्ड में तैनात सभी अधिकारी कोरोनावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रदेश में लगाए गए लॉकडाउन को अपने-अपने क्षेत्रों में एक मजबूत तंत्र एक्टिवेट करते हुए सख्ती से लागू करना सुनिश्चित करें।

डीजीपी आज पुलिस मुख्यालय में आयोजित एक वीडियो-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी पुलिस आयुक्तों (सीपी) और जिला पुलिस अधीक्षकों (एसपी) की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। राज्य सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन व रात्रि कर्फ्यू को लागू करने सहित रेमेडिसविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन की कालाबाजारी के खिलाफ अबतक की पुलिस कार्रवाई की समीक्षा के लिए बैठक आयोजित की गई थी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए 3 मई से पूरे राज्य में 7 दिन का लॉकडाउन लगाया है। इस दौरान बिना किसी वैध कारण के किसी को भी बाहर सड़कों पर जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के निर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जबकि आवश्यक सामग्री वाहनों और ऐसी गतिविधियों में लगे लोगों, ई-पास धारकों, जरूरतमंदों को ही आवाजाही की अनुमति होगी।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि लॉकडाउन के दौरान किसी आवश्यक कार्य के लिए बाहर जाने के इच्छुक नागरिक सर्वप्रथम हरियाणा सरकार के “सरलहरियाणा” वेब-पोर्टल से “ई-पास” प्राप्त करें। पुलिस को निर्देशित किया गया है कि वैध ‘‘ई-पास‘‘ दिखाने के बाद ही नागरिकों की आवाजाही की अनुमति दी जाए।

डीजीपी ने मीटिंग के दौरान जीवन रक्षक दवाओं और ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी या कालाबाजारी के खिलाफ की गई कार्रवाई की भी समीक्षा की। उन्होंने जिला एसपी द्वारा इस तरह की अवैध और गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए किए गए प्रयासों की भी सराहना की।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान नागरिकों को सेवाएं प्रदान करने में हरियाणा पुलिस अग्रणी रही है। विभिन्न कर्तव्यों के दौरान संक्रमित हमारे कर्मियों की बढ़ती संख्या फिर से पुलिस के लिए एक चुनौतीपूर्ण समय है। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा कि वे अपने जिलों में कर्मचारियों विशेष रूप से कोविड संक्रमित कर्मियों की देखभाल की उचित व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। हमने जिला पुलिस लाइनों में कोविड देखभाल की सुविधा पहले ही स्थापित कर दी है।

बैठक में डीजीपी क्राइम मोहम्मद अकील, एडीजीपी प्रशासन और आईटी ए.एस. चावला, डीआईजी, सतेंद्र कुमार गुप्ता, डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर ओ.पी.नरवाल और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।